UPSC ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। इस साल कुल रिक्तियों की संख्या 896 है।
नमस्कार दोस्तो, Welcome To Our Website 🙂
UPSC Civil Service Exam 2019: संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2019 के लिए अधिसूचना जारी कर दी है। अभ्यर्थी आयोग की आधिकारिक वेबसाइट (Official Website) या इस Post में दिए गए सीधे लिंक के माध्यम से भी ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 18 मार्च 2019 शाम 6:00 बजे तक है।
UPSC Civil Service Exam 2019 Online Apply Now



UPSC सिविल सेवा प्रीलिम्स परीक्षा 2 जून, 2019 को आयोजित होने वाली है। जो उम्मीदवार प्रीलिम्स परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं, वे 20 सितंबर, 2019 को आयोजित होने वाली सिविल सेवा मेन्स परीक्षा (Mains Exam) के लिए पात्र होंगे। UPSC सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा भारतीय प्रशासनिक सेवाओं और भारतीय वन सेवाओं दोनों के लिए आयोजित की जाती है।

कुल रिक्तियों की संख्या
आयोग द्वारा जारी आधिकारिक अधिसूचना के अनुसार, यूपीएससी को भारतीय वन सेवाओं में 90 के करीब रिक्तियां और भारतीय सिविल सेवा में लगभग 896 रिक्तियां भरने की उम्मीद है, जिसमें बेंचमार्क विकलांग लोगों के लिए 39 रिक्तियां भी शामिल हैं।

यहाँ भी देखें।




UPSC सिविल सेवा: आयु सीमा
उम्मीदवार को 21 वर्ष की आयु प्राप्त हुई होगी और 1 अगस्त, 2019 को 32 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं की होगी, अर्थात वह 2 अगस्त 1987 से पहले जन्म नहीं हुआ हो, और 1 अगस्त, 1998 के बाद नहीं।


शैक्षिक योग्यता
भारतीय सिविल सेवा के लिए, उम्मीदवार को भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।



भारतीय वन सेवाओं के लिए, उम्मीदवार को पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, रसायन विज्ञान, भूविज्ञान, गणित, भौतिकी, सांख्यिकी और जूलॉजी जैसे विषयों में से कम से कम एक विषय के साथ स्नातक की डिग्री या कृषि, वानिकी या इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। ।

UPSC सिविल सेवा: प्रयासों की संख्या
यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में बैठने वाले प्रत्येक उम्मीदवार को परीक्षा में छह प्रयासों की अनुमति होगी।

अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए स्वीकार्य प्रयासों की संख्या नौ है। छूट उन उम्मीदवारों को मिलेगी जो ऐसे उम्मीदवारों के लिए लागू आरक्षण का लाभ उठाने के पात्र हैं।

अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों के मामले में प्रयासों की संख्या पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

बेंचमार्क विकलांग वाले व्यक्तियों के उम्मीदवारों को कई प्रयास मिलेंगे, जो अन्य उम्मीदवारों के लिए उपलब्ध हैं जो अपने या अपने समुदाय के बेंचमार्क विकलांग वाले व्यक्तियों से संबंधित नहीं हैं। सामान्य श्रेणी से संबंधित बेंचमार्क विकलांग श्रेणी वाले व्यक्तियों का एक उम्मीदवार नौ प्रयासों के लिए पात्र होगा।



Hello Friends, Welcome To Our Website
हम आज आपके लिए भारत के राष्ट्रीय आयोगों के अध्यक्ष, उनसे जुड़े विभाग से संबंधित पोस्ट लेकर आए है, जो की सभी प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
List of Chairman of The National Commissions, india

नमस्कार दोस्तो, Welcome To Our Website 🙂
Chronology Magazine Current Affairs March 2019: दोस्तो आज हम आपके लिए वर्ष 2019 के मार्च (March) महीने की Chronology Magazine Current Affairs March 2019 Monthly Magazine in Hindi की PDF को हिन्दी में उपलब्ध करा रहे है! जो कि आपको आने वाले सभी तरह की Competitive Exams के लिये बहुत उपयोगी साबित होंगी! 
Chronology (Chronicle) Magazine Current Affairs March 2019 Hindi

Chronology (Chronicle) Magazine Current Affairs March 2019 Hindi PDF Download



Magazine: Chronology Magazine Current Affairs Magazine March 2019
Language: Hindi
Size: 25 MB
Page: 50
Quality: High
Format: PDF FORMAT


Chronology Magazine Current Affairs March 2019 Download



यहाँ भी देखें।



दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे Facebook पर Share अवश्य करें! कृपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks!


दोस्तो आप कोचिंग संस्थान के बिना सिर्फ Self-Studies से सभी परीक्षा की तैयारी करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें, हम आपको Civil Services और other Exam के लिये महत्वपूर्ण Study Materials उपलब्ध कराते है।
Hello Friends, Welcome To Our Website
हम आज आपके लिए भारत की पंचवर्षीय योजनायें (Five Year Plan of India), उनसे जुड़े मुख्य तथ्य से संबंधित पोस्ट लेकर आए है, जो की सभी प्रतियोगी परीक्षा के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
Five Year Plan of India


प्रथम पंचवर्षीय योजना (1951-56) 
  • सर्वोच्च प्राथमिकता सिंचाई और बिजली परियोजनाओं सहित कृषि को दी गई थी.
  • हर्रोड़-डोमार मॉडल पर आधारित
  • 1952 में सामुदायिक विकास कार्यक्रम शुरू किया गया था (CDP)



द्वितीय पंचवर्षीय योजना (1956-61) 
  • महालनोबिस रणनीति पर आधारित
  • मुख्य उद्देश्य तेजी से औद्योगिकीकरण था
  • भिलाई, दुर्गापुर, राउरकेला में सार्वजनिक क्षेत्र में इस्पात संयंत्रों का निर्माण.
  • भिलाई संयंत्र सोवियत संघ के सहयोग द्वारा स्थापित किया गया था
  • दुर्गापुर इस्पात संयंत्र ब्रिटिश सहयोग से स्थापित किया गया था
  • राउरकेला इस्पात संयंत्र जर्मन सहयोग के साथ स्थापित किया गया था


तीसरी पंचवर्षीय योजना (1961-66) 
  • जॉन सैंडी और एस चक्रवर्ती मॉडल पर आधारित
  • मुख्य उद्देश्य आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था, कृषि का विकास, खाद्यान्न में आत्मनिर्भरता और कृषि और औद्योगिक क्षेत्र के समग्र विकास था. (कृषि के क्षेत्र में सकारात्मक वृद्धि हासिल की गई).
  • इस योजना को कई विद्वानों द्वारा एक असफल योजना के रूप में जाना जाता है. मानसून, सूखा और अकाल विफलता का कारण रहा था .
  • 1962 में चीन के साथ और 1965 में पाकिस्तान के साथ किये गए युद्ध को भी इस योजना की विफलता का अन्य कारण माना जाता है.


तीन वार्षिक योजनायें
  • हालांकि चौथी योजना तैयार थी लेकिन चीन से हार के बाद, कमजोर वित्तीय स्थिति के कारण. सरकार 3 वार्षिक योजनाओं के साथ ही बहार आई.
  • योजना हॉलिडे का अर्थ है, ‘छुट्टी पर नियोजन’. वार्षिक योजनाओं को योजना छुट्टी के रूप में संदर्भित किया जाता है.(1966-67, 1967-68, 1968-69)



चौथी पंचवर्षीय योजना(1969-74) 
  • एस माने और ए रुद्रा के मॉडल पर आधारित
  • गाडगिल रणनीति पर आधारित.
  • मुख्य उद्देश्य आत्मनिर्भरता और स्थिरता के साथ विकास था.
  • यह राष्ट्रीयकरण पर दिशा में पहला कदम था.
  • 1971 - पाकिस्तान के साथ युद्ध.
  • 1969 में 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया था
  • इस योजना में एमआरटीपी अधिनियम पेश किया गया था (MRTP – एकाधिकार एवं प्रतिबंधात्मक व्यापार व्यवहार अधिनियम)
  • 1973 में फेरा पेश किया गया था (विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम)



पांचवीं पंचवर्षीय योजना (1974-79) 
  • योजना आयोग का मॉडल
  • मुख्य उद्देश्य आत्म निर्भरता और गरीबी उन्मूलन.
  • 20 अंक कार्यक्रम इस योजना में पेश किया गया था.
  • यह नीति आयात प्रतिस्थापन और निर्यात को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित करता है.
  • न्यूनतम जरूरतों पर राष्ट्रीय कार्यक्रम जिसमे प्राथमिक शिक्षा, पेयजल, ग्रामीण सड़कें, आवास आदि शामिल थे.
  • काम के कार्यक्रम के लिए खाद्य शुरू किया गया था (1977-1978)
  • 1975 में इमरजेंसी को पेश किया गया था (नेशनल इमरजेंसी)
  • यह योजना को सरकार में परिवर्तन की वजह से समय से एक वर्ष  पहले समाप्त किया गया.



वार्षिक योजना (1979-80) योजना को रोलिंग योजना के रूप में जाना जाता था.
नोट रोलिंग योजना इस योजना में पिछले वर्ष के उद्देश्य अगले वर्ष पूरे किये जाने थे.रॉलिंग की योजना की पहले गुन्नार म्यर्दल द्वारा वकालत की गई थी.

छठी पंचवर्षीय योजना (1980-1985) 
  • इस योजना में अपनाया गया मॉडल योज आयोग द्वारा निर्मित किया गया था.
  • इस योजना में नारा "गरीबी हटाओ" पेश किया गया था.
  • NREP - राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार कार्यक्रम 1980 में शुरू किया गया था.
  • ग्रामीण भूमिहीन रोजगार गारंटी कार्यक्रम 1983 में शुरू किया गया था,
  • डेयरी विकास कार्यक्रम TRYSEM (स्व-रोजगार के लिए ग्रामीण युवा प्रशिक्षण ),
  • राष्ट्रीय बीज कार्यक्रम और KVIP 1983 में शुरू किया गया. (KVIP - खादी और ग्राम औद्योगिक कार्यक्रम)


सातवीं पंचवर्षीय योजना (1985-1990) 
  • मुख्य उद्देश्य आधुनिकीकरण, विकास, आत्मनिर्भरता और सामाजिक न्याय था.
  • पारिस्थितिकी और पर्यावरण उत्पादन पर जोर देना.
  • JRY - जवाहर रोजगार योजना को 1989 में शुरू किया गया था.
  • इस योजना में सूर्योदय उद्योग विशेष रूप से खाद्य प्रसंस्करण और इलेक्ट्रॉनिक्स को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित था.
  • पहली बार, कुल योजना उत्पादन में सार्वजनिक क्षेत्र की हिस्सेदारी 50% से कम थी.



दो वार्षिक योजनाएं
  • नई औद्योगिक नीति शुरू की गई थी.
  • बड़े पैमाने पर उदारीकरण की शुरुआत.
  • एलपीजी (उदारीकरण, निजीकरण और वैश्वीकरण) मुख्य एजेंडा में से एक था.


1991 में आर्थिक सुधार 
  • विदेश व्यापार नीति को उदार बनाया गया था
  • लाइसेंसिंग व्यवस्था समाप्त (लाइसेंस राज को समाप्त कर दिया गया था)
  • सीआरआर, एसएलआर कम हो गई थी
  • रूपये का अवमूल्यन किया गया
  • आयात शुल्क को कम किया गया.
  • एमआरटीपी समाप्त कर दिया गया(1969 में शुरू)
  • FERA को FEMA में बदल दिया गया (FERA अधिनियम 1973)


आठवीं पंचवर्षीय योजना (1992-97) 
  • बुनियादी ढांचे के विकास पर बल दिया गया.
  • इस योजना में डब्लू.मिलर मॉडल को अपनाया गया.
  • मानव संसाधन विकास मुख्य उद्देश्य था.
  • इस योजना में जनसंख्या विस्फोट को नियं
  • त्रित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया.
  • इस योजना में प्राथमिक शिक्षा के सार्वभौमीकरण पर जोर दिया गया था.
  • राष्ट्रीय आय एवं औद्योगिक विकास दर लक्षित दर की तुलना में अधिक थे.
  • 73वां संशोधन अधिनियम पेश किया गया, जिसमें पंचायती राज को एक संवैधानिक दर्जा दिया गया (पंचायती राज संस्थान)
  • 74वां संशोधन अधिनियम पेश किया गया, जिसमें शहरी स्थानीय सरकार को एक संवैधानिक दर्जा दिया गया.


नौवीं पंचवर्षीय योजना (1997-2002) 
  • 'समान वितरण और समानता के साथ विकास' मुख्य उद्देश्य था.
  • इस योजना की अन्य विशेषताएं थीं:-
  • प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता.
  • खाद्यान्न अर्थव्यवस्था में आत्मनिर्भरता.
  • अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों का समग्र विकास.


दसवीं पंचवर्षीय योजना (2002-2007) 
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य मानव विकास पर जोर देने के साथ ग्रोथ था.
  • गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा, जेंडर गैप (लिंग अनुपात), जनसंख्या वृद्धि, आईएमआर (शिशु मृत्यु दर), एमएमआर (मातृ मृत्यु दर) और अन्य सामाजिक-आर्थिक पहलुओं की जाँच के लिए निगरानी लक्ष्य शुरू किए गए थे.
  • दसवीं योजना में 2007 तक 25% तक वन और पेड़ बढ़ाने पर प्रकाश डाला गया था.
  • योजना अवधि के भीतर सभी गांवों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए व्यापक ढाँचे की शुरुआत की गई.
  • एनएचएम (2005-06) (राष्ट्रीय बागवानी मिशन)


ग्यारहवीं योजना (2007-2012) 
  • मुख्य उद्देश्य टिकाऊ और समावेशी विकास भविष्य की ओर था.
  • 11वीं योजना के दृष्टिकोण में गरीब, अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और महिलाओं की स्थिति को मजबूत करने के लिए और उनके विकास को तेजी से बढ़ावा देने पर ध्यान केन्द्रित किया गया था.


बारहवीं पंचवर्षीय योजना(2012-17) 
  • इस योजना का विषय था, "तेज, सतत और अधिक समावेशी विकास".
  • विभिन्न निगरानी लक्ष्य थे
  • (i) 8% की वृद्धि दर
  • (ii) 12 वीं पंचवर्षीय योजना के अंत तक टीएफआर (कुल प्रजनन दर) को  2.1 तक कम किया गया
  • (iii) सभी गांवों को बिजली उपलब्ध कराना.
  • (iv) हर मौसम की सड़कों के साथ सभी गांवों को जोड़ना
  • (v) 90% भारतीय परिवारों को बैंकिंग सेवाओं तक पहुँच प्रदान कराना.
  • (vi)मेजर सब्सिडी और कल्याणकारी लाभ भुगतान प्रत्यक्ष नकद हस्तांतरण (डीसीटी) द्वारा आधार से जुड़े बैंक खातों में सीधे हस्तांतरित की जाती है!


नोट:- 2014 के लोक सभा चुनाव के बाद श्री नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने और 12 वीं पंचवर्षीय योजना को 17 अगस्त 2014 को भंग कर दिया गया और इसके जगह पर 1 जनवरी 2015 को नीति आयोग का गठन किया गया। नीति आयोग के प्रथन अध्यक्ष श्री नरेंद्र मोदी और उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया बने।

दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे Facebook पर Share अवश्य करें! दोस्तो आप मुझे Facebook पर Follow कर सकते है! कृपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks!

दोस्तो कोचिंग संस्थान के बिना  सिर्फ Self-Studies से सभी परीक्षा की तैयारी  करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें , हम आपको Civil Services और Other Exam के लिये महत्वपूर्ण Study Materials उपलब्ध कराते है।
हेल्लो दोस्तों, आज के इस Article के जरिये उन सभी छात्रों जो किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे है ये उनके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण eBook लेकर आए है। इस Book नाम Lucent General Science (सामान्य विज्ञान) है। यह आपको Hindi भाषा मे पढने को मिलेगी। इस Lucent General Science Book Pdf को FREE DOWNLOAD करने के लिए निचे दिये हुये DOWNLOAD BUTTON पे CLICK करके PDF DOWNLOAD करे और अवस्य पढ़े!
Lucent’s General Science, lucent samanya vigyan

Download Lucent’s Samanya Vigyan Book in Hindi PDF


लुसेंट सामान्य विज्ञान PDF बुक के मुख्य अंश में आपको इस बुक में क्या क्या पढ़ने को मिलेगा।
  • भौतिक विज्ञान
  • सामान्य भौतिकी (यांत्रिकी)
  • ध्वनि (ध्वनिकी)
  • थर्मल भौतिकी (ताप और ऊष्मागतिकी)
  • प्रकाश (प्रकाशिकी)
  • बिजली और चुंबकत्व
  • आधुनिक भौतिकी (परमाणु और परमाणु भौतिकी)
  • इलेक्ट्रानिक्स
  • खगोल
  • कंप्यूटर
  • रसायन विज्ञान
  • भौतिक रसायन
  • अकार्बनिक रसायन शास्त्र
  • और्गॆनिक रसायन
  • जीवविज्ञान
  • विज्ञान



यहाँ भी देखें।

पुस्तक का नाम: लुसेंट सामान्य विज्ञान
प्रकाशक: लुसेंट पब्लिकेशन्स
भाषा: हिंदी
पेज: 167, 213 तथा 447 पृष्ठ
प्रारूप: पीडीएफ फाइल


Lucent’s Samanya Vigyan (Physics) in Hindi PDF






दोस्तो आप कोचिंग संस्थान के बिना सिर्फ Self-Studies से सभी परीक्षा की तैयारी करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें, हम आपको Civil Services (यूपीएससी) और other Exam के लिये महत्वपूर्ण Study Materials उपलब्ध कराते है।


दोस्तों ध्यान दीजिये: Daily New Free Paid eBook & Current Affairs Magazine Download करने के लिए हमेशा हमारी Website Visit कीजिऐ और अपनी आने वाली Competitive Exams की तेयारी सरल तरीके से कीजिये। अपने दोस्तों को Whatsapp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को मुक्त में PAID Study Materials PDF BOOK मिल पाए। धन्यवाद्!
नमस्कार दोस्तो, Welcome To Our Website 🙂
Mahendra’s (MICA) Current Affairs March 2019: दोस्तो आज हम आपके लिए वर्ष 2019 के मार्च (March) महीने की MICA Mahendra’s Current Affairs March 2019 Monthly Magazine in Hindi की PDF को हिन्दी में उपलब्ध करा रहे है! जो कि आपको आने वाले सभी तरह की Competitive Exams के लिये बहुत उपयोगी साबित होंगी! 
MICA Mahendra’s Current Affairs March 2019 pdf

About Mahendra’s MICA Current Affairs March 2019 Hindi PDF Download



Magazine: Mahendra’s MICA Current Affairs Magazine March 2019 PDF
Language: Hindi
Size: 05 MB
Page: 116
Quality: High
Format: PDF FORMAT


MICA Current Affairs March 2019 PDF Download Now

यहाँ भी देखें।



दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे Facebook पर Share अवश्य करें! कृपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks !


दोस्तो आप कोचिंग संस्थान के बिना सिर्फ Self-Studies से सभी परीक्षा की तैयारी करें और महत्वपूर्ण पुस्तको का अध्ययन करें , हम आपको Civil Services और other Exam के लिये महत्वपूर्ण Study Materials उपलब्ध कराते है।
Environment and Ecology Book By EG Classes in Hindi: Hello Friends, Hindimetyari पर आपका स्वागत है, आज मैं आपके लिए पर्यावरण और पारिस्थितिकी (Environment and Ecology) का E-Book PDF हिन्दी भाषा मे लेकर आया हूँ। जो सभी Competitive Exam SSC, UPTET, VDO, UPSC, BPSC, Railway, UPPSC जैसे परीक्षाओ की तैयारी के लिए बहुत उपयोगी है। Environment and Ecology Book By EG Classes in Hindi को FREE DOWNLOAD करने के लिए निचे दिये हुये DOWNLOAD BUTTON पे CLICK करे।
Environment and Ecology book By EG Classes in Hindi


 Environment and Ecology Book By EG Classes in Hindi


Book Name: Environment and Ecology Book By EG Classes in Hindi
Language: Hindi
Pages: 311Pages
Size: 16MB
Format: PDF File


Environment and Ecology book Download Here

यहाँ भी देखें।




सभी प्रतियोगी परीक्षाओ के बेहतर तैयारी के लिए hindimetyari.com का रेगुलर visit करते रहे हम यहाँ प्रतिदिन study materials upload करते है।

दोस्तों हम आपके अध्ययन (Study)के उद्देश्य से यह पर्यावरण और पारिस्थितिकी (Environment and Ecology) का  E-Book PDF की Online Soft  कॉपी Share कर रहा हूँ। अगर डिजिटल रूप से इस किताब को पढ़ना चाहते है, तो आप हमारे और आपके इस hindimetyari से पर्यावरण और पारिस्थितिकी (Environment and Ecology) books in hindi pdf को Free में  Download कर सकते हैं। लेकिन हम आपसे  निवेदन करते हे कि आप इस Book की Hard Copy को  Buy करे क्योंकि यह Soft Copy से  ज्यादा बेहतर होता है। हम इस Book के प्रकाशक एवं लेखक का सम्मान करते हे।


नोट:- अगर आपको किसी प्रकार की पुस्तक की जरूरत है तो आप हमें comment करके बता सकते है। Daily News, Free & Paid eBook & Current Affairs Magazine Download करने के लिए आप हमारी Website पर Visit कीजिऐ और अपनी आने वाली Competitive Exams की तैयारी कीजिये, और अपने दोस्तों को Whatsapp, Facebook, Telegram, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को मुक्त में PAID PDF BOOK मिल पाए, धन्यवाद्!
Hello Friends, Hindimetyari पर आपका स्वागत है, आज मैं आपके लिए Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019  का  E-Magazine PDF  हिन्दी भाषा मे लेकर आया हूँ  । यह मैगज़ीन प्रत्येक वर्ष Drishti Publication के द्वारा तैयार एवं प्रकाशित किया जाता है। Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 में वर्ष 2018 की राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर की महत्वपूर्ण एवं परीक्षापयोगी Current Affairs को क्रमबद्ध तरीके से दिया गया है, जो सभी competitive Exam SSC, UPSC, BPSC, Railway, UPPSC जैसे परीक्षाओ में पूछे जाने वाले current Affairs की तैयारी के लिए बहुत उपयोगी है। इस Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 को FREE DOWNLOAD  करने के लिए निचे दिये हुये DOWNLOAD BUTTON  पर CLICK करके PDF DOWNLOAD करे ।
Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 Hindi pdf Download

दोस्तों यह Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 खास आपके Year 2018 के सभी Current Affairs को Update  किया गया है जो सभी Competitive Exam की तेंयारी करने के लिए बहुत उपयोगी होगा ।

Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019



यह Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 आपकी आने वाली सभी परीक्षा SSC, UPSC, BPSC, UPPSC Railway, Bank जैसी सभी प्रकार के COMPETITIVE EXAM की तैयारी के लिए बहुत Helpful रहेगी तो आप इसे जरूर पढ़े।

Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 में महत्वपूर्ण बिन्दु:-

  • सवैधानिक / प्रशासनिक घटनाक्रम
  • आर्थिक परिदृश्य
  • रिपोर्ट एवं सूचकांक
  • अंतराष्ट्रीय मुद्दे
  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी
  • पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी
  • सुरक्षा
  • सामाजिक मुद्दे
  • कला एवं संस्कृति
  • खेल घटनाक्रम
  • विविध


इसे जरूर पढ़ें



दोस्तों यदि आप Yearly Current Affairs की नवीनतम जानकारियों से खुद को Update रखना चाहते हैं तो इस  Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 को Download करक े अवश्य पढ़ें|

Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 Magazine Download


दोस्तों हम आपके अध्ययन (Study) के उद्देश्य से यह Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 Magazine की Online Soft कॉपी Share कर रहा हूँ। अगर आप डिजिटल रूप से इस मैगज़ीन को पढ़ना चाहते है तो आप हमारे और आपके इस hindimetyari से Drishti Current Affairs Today Varshiki (Yearly) 2019 Magazine Hindi को Free  में Download कर सकते हैं। लेकिन हम आपसे निवेदन करते हे कि आप इस Magazine की Hard Copy  को Buy करे क्योंकि यह Soft Copy से ज्यादा बेहतर होता है। हम इस Magazine के प्रकाशक का सम्मान करते हे।


नोट:- अगर आपको किसी प्रकार की पुस्तक की जरूरत है तो आप हमें comment करके बता सकते है। Daily New Free Paid eBook & Current Affairs Magazine Download करने के लिए आप हमारी Website पर Visit कीजिऐ और अपनी आने वाली Competitive Exams की तैयारी कीजिये, और अपने दोस्तों को Whatsapp, Facebook, Twitter के जरिये SHARE भी कर सकते हे ताकि और भी Students को मुक्त में PAID PDF BOOK मिल पाए, धन्यवाद्!